गुरुवार के दिन करेंगे ये उपाय तो आपकी शादीशुदा जिदंगी जाएगी संवर

आज के जमाने में रिश्ते बहुत कमजोर हो गए है। छोटी-छोटी बातों पर लोग रिश्तों को बिगाड लेते है। ऐसे में आज के समय में शादियों के टूटने की खबरें सामने आ रही है। अक्सर देखा जाता है शादी के शुरूआती एक-दो साल में पति-पत्नी के रिश्तों में मधुर संबंध होते है। लेकिन कुछ ही दिनों बाद पति-पत्नी में मामूल बात घर में कलह का कारण बन जाती है।

ऐसे में रिश्तों को लेकर दूरी बना लेते है। अगर आपकी शादीशुदा लाइफ में वो पहले जैसी मिठास नहीं हैं तो ऐसी लाइफ को जीने का मजा भी नहीं आता हैं।

इसी बात को ध्यान में रखते हुए आज हम कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे हैं जिसे गुरुवार के दिन करने के बाद आपकी शादीशुदा जिन्दगी में कभी कोई परेशानी नहीं आएगी। वो कौनसे उपाय है जिसको करने से आपकी शादीशुदा जिदंगी संवर जाएगी, आइए जानते है।

पहला काम... ज्योतिष के मुताबिक, गुरुवार के दिन सुबह जल्दी उठ स्नान कर ले। अब एक कुमकुम की डिब्बी ले और उसे माता रानी की प्रतिमा के सामने रख दे। इसके बाद माता रानी के सामने घी के दो दीपक प्रज्वलित करे। पहले दीपक को कुमकुम की डिब्बी के पास रख दे जबकि दूसरे दीपक से माता रानी की आरती करे। आरती समाप्त होने के बाद पहली आरती मां दुर्गा को, दूसरी कुमकुम की डिब्बी को और तीसरी खुद को दे।

यदि आपके पतिदेव वहां मौजूद हैं तो उन्हें भी ये आरती दे। इसके बाद गुरुवार के दिन आप जब भी माथे पर सिंदूर लगाए तो इसी कुमकुम की डिब्बी से लगाए। लेकिन इस बात का ध्यान रहे कि ये कुमकुम आपको अपने हाथ से नहीं लगाना हैं बल्कि अपने पति के हाथ से लगना हैं। ये उपाय आप हर गुरुवार या कम से कम महीने के एक गुरुवार जरूर करे। इससे आपके और पति के बीच मधुर संबध बने रहते हैं।

दूसरा काम...
लक्ष्मी और विष्णु जी की जोड़ी भी काफी लोकप्रिय हैं। गुरुवार को विष्णु जी का ही दिन होता हैं। विष्णु जी को सत्यनारायण और लक्ष्मीनारायण नामो से भी जाना जाता हैं। ऐसे में यदि आप गुरुवार के दिन घर में सत्यनारायण की कथा रखते हैं तो ये ना सिर्फ आपकी शादीशुदा लाइफ के लिए लाभकारी रहेगा बल्कि पुरे परिवार की शान्ति में भी फायदा होगा।

सत्यनारायण कथा घर में कराने से मकान की सारी नेगेटिव उर्जा बाहर निकल जाती हैं। साथ ही घर में रह रहे लोगो में पॉजिटिव एनर्जी आती हैं। इससे उनका मन साफ़ होता हैं और अच्छे विचार बनते हैं। इस तरह घर के लोगो में लड़ाई झगड़ा नहीं होता हैं और सभी शान्ति से रहते हैं।

आप इस बात का विशेष रूप से ध्यान रखे कि जब आप घर में सत्यनारायण कथा करवाए तो वहां आपके साथ आपके पतिदेव भी मौजूद रहे। तभी इसका पूर्ण लाभ आपकी शादीशुदा लाइफ को मिलेगा। आप ये कथा तीन से चार महीने में एक बार जरूर कराए।
कुंवारे युवक-युवतियों को निहाल करेगा वर्ष 2017
बुरे दिनों को अच्छे दिनों में बदलने के लिए करें केवल ये 4 उपाय
सास-बहू की टेंशन का कम करने के वास्तु टिप्स

Home I About Us I Contact I Privacy Policy I Terms & Condition I Disclaimer I Site Map
Copyright © 2019 I Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved I Our Team