सोनीपत बम धमाकों के मामले में लश्कर का आतंकी अब्दुल करीम टुंडा दोषी करार

रोहतक। 1996 में सोनीपत में हुए बम धमाकों के मामले में लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी अब्दुल करीम टुंडा दोषी करार दिया गया है। सोनीपत की अदालत ने सोमवार को टुंडा को दोषी ठहराया है। अब कोर्ट मंगलवार को फैसला सुनाएगी की टुंडा को कितनी सजा मिलेगी। आपको बात दें कि 28 दिसंबर 1996 को सोनीपत में हुए 2 बम धमाकों में करीब 12 लोग घायल हुए थे। टुंडा को 2013 में भारत-नेपाल बॉर्डर से गिरफ्तार किया था।

टुंडा उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मुंबई, हरियाणा, पंजाब, हैदराबाद और सूरत में हुए 43 बम विस्फोटों के मामले में भी शामिल रहा है। यहां हुए धमाकों में 20 से ज्यादा लोग मारे गए थे और 400 से ज्यादा घायल हुए थे। सैयद अब्दुल करीम टुंडा उत्तर प्रदेश में गाजियाबाद जिले के पिलखुआ का रहने वाला है।
आतंकी गतिविधियों में शामिल होने से पहले 1980 के दशक में होम्योपथी दुकान चलाता था। वह कारपेंटर और कबाड़ी के तौर पर भी काम कर चुका है। आतंकवादी बनने के बाद टुंडा ने बम बनाने में उसे महारत हासिल की और कई तरह के खतरनाक बम भी तैयार किए। टुंडा आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा की गतिविधियों में शामिल रहा है।

पूजा की थाली से करें लक्ष्मी-गणेश को प्रसन्न
नववर्ष में अपनी झोली में खुशियां भरने के लिए करें ये 6 उपाय
3 दिन में बदल जाएगी किस्मत, आजमाएं ये वास्तु टिप्स

Home I About Us I Contact I Privacy Policy I Terms & Condition I Disclaimer I Site Map
Copyright © 2022 I Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved I Our Team