दांपत्य जीवन में चाहते है मिठास तो गुरुवार के दिन करें यह उपाय

यह बात हम सभी जानते है कि गुरूवार का दिन भगवान बृहस्पति को समर्पित होता है। बृहस्पति देव को गृहस्थों का देवता माना जाता है। कहा जाता है कि बृहस्पति पूजा करने से विवाह में हो रही देरी या दांपत्य जीवन में आ रही परेशानियां खत्म हो जाती है। इसके अलावा गुरूवार के दिन कुछ उपाय करने से जातक को विशेष लाभ प्राप्त होते हैं।

(1) गुरुवार को पति-पत्नी एक साथ बैठकर बृहस्पति भगवान की पूजा करें। कहा जाता है कि ऐसा करने से रिश्ते में हमेशा मिठास बनी रहती है ध्यान रखें कि पूजा पर बैठने से पहले पति-पत्नी दोनों ही पीले रंग के कपड़े पहनें।

(2) गुरूवार को पूजा स्थल पर चौकी पर पीला कपड़ा डालें और उस पर लक्ष्मी-नारायण की मूर्ति या फोटो स्थापित करें। इसके बाद गंगाजल छिड़क कर उसे शुद्ध कर लें। इस उपाय को करने से घर में सकारात्मक ऊर्जा आती है।

(3) गुरूवार के दिन पत्नी लाल चुनरी ओढ़े, जिसे पति अपने कंधे पर रखे गमछे या कपड़े से बांध ले। उसके बाद दोनों हाथ जोड़कर भगवान विष्णु और लक्ष्मी माता का ध्यान करें। कहा जाता है कि ऐसा करने से दांपत्य जीवन में आ रही बाधाएं खत्म हो जाएगी।

(4) धन की प्राप्ति के लिए लक्ष्मी-नारायण के पास चांदी का एक सिक्का रखकर उसमें सिंदूर लगा दें और भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी का ध्यान करें। पूजा समाप्त होने के पश्चात उस सिक्के को अपनी तिजोरी में रख दें। ऐसा करने से धन की वृद्धि होगी।

(5) यदि आप सुख-समृद्धि की चाहत रखते हैं तो गुरुवार के दिन विष्णु और लक्ष्मी जी के सामने केसर डालकर देसी घी का दीपक जलाएं। ऐसा करने से घर में मां लक्ष्मी का वास होगा।

(6) यदि जातक नौकरी में तरक्की चाहता हैं तो हर गुरुवार को केले के पेड़ की जड़ में जल चढ़ाएं। ध्यान रखें कि केले के पेड़ के जड़ में जल चढ़ाने से पहले उसमें चुटकी-भर हल्दी जरूर डाल दें।

(7) यदि पति-पत्नी में अक्सर लड़ाई होती रहती है या विचारों में मतभेद रहते है तो गुरुवार को भगवान विष्णु की पूजा करें और लाल रंग का धागा या मौली चढ़ाएं। पूजा के बाद इस मौली को पति-पत्नी अपनी दाएं कलाई पर बांध लें। ऐसा करने से रिश्ते में मिठास बढ़ेगी।
करें ये 15 उपाय, नहीं रहेंगे कुंवारे, होगी जल्‍दी शादी
रोटी के एक टुकडे से होगा जीवन में चमत्‍कार

सौ सालों में पहली बार नवग्रह 2017 में करेंगे अपनी राशि परिवर्तन

Home I About Us I Contact I Privacy Policy I Terms & Condition I Disclaimer I Site Map
Copyright © 2020 I Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved I Our Team