वृश्चिक राशि में बुध ने किया है गोचर, बुधादित्य योग का निर्माण, 12 राशियों पर प़डेगा यह प्रभाव

बुध ग्रह ने 21 नवंबर को वृश्चिक राशि में गोचर किया है। इससे पूर्व इस माह 16 नवंबर को सूर्य ने वृश्चिक में और 20 नवंबर को बृहस्पति ने कुंभ में और 21 नवंबर को बुध ने वृश्चिक में प्रवेश किया है। बुध के वृश्चिक राशि में गोचर करने से और सूर्य देव के पहले से ही इस राशि में होने की वजह से बुधादित्य योग का निर्माण हुआ है। बुध के सूर्य के साथ संयोग या युति से बुधादित्य योग का निर्माण होगा। इस योग से धन, समृद्धि और सुख शांति बढ़ती है। ज्योतिष शास्त्र में बुधादित्य योग को शुभ फलदायी माना जाता है। इससे राजयोग भी बनता है।
आइए डालते हैं एक नजर बुध ग्रह के इस राशि परिवर्तन से 12 राशियों का क्या रहेगा भविष्यफल या राशिफल।

मेष
बुध ने आपकी राशि के आठवें भाव में गोचर किया है। यह गोचर आपके लिए मिले-जुले परिणाम वाला है। आर्थिक मोर्चे पर यह गोचर कठिनाइयों भरा है। रिश्तों को लेकर भी तनाव भरा गोचर है। सेहत की दृष्टि से भी यह गोचर ठीक नहीं है। हालांकि आपने यदि वाणी पर संयम रखा तो आप सभी से पार पा लेंगे।

वृषभ
बुध आपकी राशि के सातवें भाव में गोचर कर रहा है। यह परिवर्तन आपके करियर, साझेदारी का व्यापार, प्रेम और दांपत्य जीवन के लिए सकारात्मक रहेगा। यात्रा के योग हैं और विदेश से लाभ की संभावना है। हर क्षेत्र में सफलता मिलेगी।

मिथुन
बुध आपकी राशि के छठे भाव में गोचर कर रहे हैं। यह सेहत और रिश्तों की दृष्टि से गोचर अच्छा नहीं माना जा रहा है। वाद-विवाद होगा और नुकसान भी उठाना पड़ सकता है। परंतु आप में आत्म विश्वास भरपूर रहेगा जिसके कारण आप हर परिस्थिति को हेंडल कर लेंगे और अच्छे मार्ग पर कार्य करेंगे।

कर्क
बुध आपकी राशि के पंचम भाव में गोचर कर रहा है। यह गोचर मिले-जुले परिणाम लेकर आया है। आपको नौकरी पर ध्यान रखना होगा और संतान की सेहत की चिंता होगी। फालतू के खर्चों को लेकर सतर्क रहें। हालांकि आप अपनी प्रखर बुद्धि से इस समय को सफलता में बदलने की ताकत रखते हैं।

सिंह
बुध आपकी राशि के चतुर्थ भाव में गोचर कर रहा है जो हर तरह के सुख लेकर आया है। भूमि, भवन, वाहन और माता का सुख मिलेगा। बस आपको अपने क्रोध और वाणी पर काबू रखना होगा, तभी सभी ओर से सफलता मिलेगी।

कन्या
बुध आपकी राशि के तीसरे भाव में गोचर कर रहे हैं जो पराक्रम कराएगा। नौकरी को बदलने का योग बनेगा। जीवनसाथी, भाई-बहनों और दोस्तों का सहयोग मिलेगा। आपको सोच समझकर निर्णय लेना होगा। कुल मिलाकर यह गोचर सकारात्मक है।

तुला
बुध आपकी राशि के दूसरे भाव में गोचर कर रहा है जो सभी तरह की परेशानी दूर कर धन और समृद्धि के योग बनाता है। आपकी बातों का लोगों पर प्रभाव होगा और आपको हर क्षेत्र में सफलता मिलेगी।

वृश्चिक
बुध आपकी राशि के प्रथम भाव में गोचर कर रहा है जिसके चलते मिले-जुले परिणाम मिलने की संभावना है। जल्दबाजी में कोई भी निर्णय लेने से बचें। त्वचा और रक्त सम्बन्धी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। नौकरी पर विशेष ध्यान दें। व्यापारी हैं तो कोई जोखिम न उठाएं। किसी पुराने मित्र से मुलाकात हो सकती है।

धनु
बुध आपकी राशि के बारहवें भाव में गोचर कर रहा है। यह गोचर अच्छा है जो आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत करेगा, परंतु खर्चे भी बढ़ा देगा। जीवनसाथी की सेहत का ध्यान रखना होगा। आयात और निर्यात से जुड़े कार्यो में लाभ मिलेगा।

मकर
बुध आपकी राशि के ग्यारहवें भाव में गोचर कर रहा है। यह गोचर आपके लिए शुभ है। धन लाभ के साथ ही दांपत्य जीवन में सुख मिलेगा। हलांकि आपको जीवनसाधी की सेहत का ध्यान रखना होगा। कुल मिलाकर यह गोचर खुशियों भरा है।

कुंभ
बुध आपकी राशि के दशम भाव में गोचर कर रहा है। करियर, पेशे, नाम और प्रसिद्धि के लिए यह समय अनुकूल बन रहा है। बुद्धि से काम लिया तो मेहतन का फल उम्मीद से दोगुना मिलेगा। मान-सम्मान में भी वृद्धि होगी। काम से संबंधित अचानक यात्रा के योग है। बच्चों की सेहत का ध्यान रखना होगा।

मीन
बुध आपकी राशि के नवम भाव में गोचर कर रहा है। शिक्षा और करियर की दृष्टि से यह गोचर शुभ है। अचानक धन प्राप्ति के योग बन रहे हैं। व्यापरिक साझेदारी से भी आपको लाभ की संभावना है और सामाजिक स्थिति में वृद्धि होगी।




Home I About Us I Contact I Privacy Policy I Terms & Condition I Disclaimer I Site Map
Copyright © 2021 I Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved I Our Team