अपनी राशि अनुसार सावन माह में इस तरह करें भगवान शिव की पूजा

कहा जाता है कि भगवान शिव को बारह महीनों में सर्वाधिक पसन्द सावन का महीना आता है। मान्यता यह भी है कि इसी माह में भगवान शिव ने पार्वती देवी की पूजा से प्रसन्न होकर उनसे विवाह किया था। सावन मास में हर कोई भोलेनाथ को प्रसन्न करने में लगा रहता हैं। शिवभक्तों के लिए सावन का पवित्र माह आराधना का सर्वोत्तम समय माना जाता है। शिव के प्रति आस्था दिखाते हुए इस महीने के प्रत्येक सोमवार को शिव भक्त व्रत रखते हैं और इस माह से ही सोलह सोमवार के व्रत प्रारंभ होते हैं। भगवान शिव की पूजा-अर्चना करने से शिव भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं। वहीँ शिव की आराधना और पूजा-अर्चना राशिनुसार की जाए तो कई गुना पुण्य की प्राप्ति होती हैं। आइये डालते हैं एक नजर राशि अनुसार कैसे करें सावन में शिव की पूजा—

मेष राशि
मेष राशि के जातकों को शिवजी को लाल चंदन व लाल रंग के फूल चढ़ाना चाहिए व नागेश्वराय नम:का जाप करें। उसके बाद बेलपत्र पर सफेद चंदन से श्रीराम लिखकर शिवलिंग पर अर्पित करें। शिव को प्रसन्न करने के लिए शिवलिंग पर गंगाजल चढ़ाएं।

वृषभ राशि
वृषभ राशि के जातकों को चमेली के फूल चढ़ाकर रुद्राष्टक का पाठ करने से लाभ होगा। तत्पश्चात दूध से अभिषेक कर जल चढ़ायें और सफ़ेद चंदन से तिलक करें। विशेष कृपा पाने के लिए शिवलिंग पर दूध-दही और शक्कर चढ़ाना चाहिए।

मिथुन राशि
मिथुन राशि के जातकों को शिवजी को धतूरा,भांग चढ़ाकर साथ में पंचाक्षरी मंत्र का जाप करने से लाभ होगा। इन राशि वालों को शिवलिंग का शहद से अभिषेक करना चाहिए। इस उपाय को करने से शिव की कृपा प्राप्त होगी और आर्थिक समस्याएं दूर होंगी।

कर्क राशि
कर्क राशि के जातकों शिवलिंग का भांग मिश्रित दूध से अभिषेक करना चाहिए और रुद्राष्टाध्यायी का पाठ करें। इस राशि के शिव भक्तों को शिवलिंग पर दूध, दही, गंगाजल एवं मिश्री से भी अभिषेक करना चाहिए। इससे घर में सुख-समृद्धि और संपन्नता आती है।

सिंह राशि
सिंह राशि के जातक पूरे माह शिवजी को कनेर के लाल रंग के फूल अर्पित करें तथा शिव मंदिर में शिव चालीसा का पाठ करें। इस राशि के जातक शिव की कृपा पाने के लिए शिवलिंग की शुद्ध देसी घी से अभिषेक करें। आर्थिक समस्याएं शीघ्र ही दूर हो जाएंगी। गुड़ और चावल से बनी खीर चढ़ा सकते हैं। यह अत्यंत शुभ होता है।

कन्या राशि
कन्या राशि के जातक शिवलिंग पर बेलपत्र, धतूरा, भांग आदि का श्रृंगार चढ़ाएं और पंचाक्षरी मंत्र का जाप करें और शिवलिंग पर दूध, घी और शहद से अभिषेक करें। शंभूनाथ का गन्ने के रस से अभिषेक करना चाहिए।

तुला राशि
तुला राशि के जातक मिश्री मिले दूध से शिवलिंग का अभिषेक करते हुए शिव के सहस्रनाम का जाप करें। इसके बाद शिवलिंग का दही और गन्ने के रस से अभिषेक करें। सफेद फूल भी पूजा में शिवजी को चढ़ाने चाहिए।

वृश्चिक राशि
वृश्चिक राशि के जातक भोलेनाथ को गुलाब का फूल व बिल्वपत्र की जड़ चढ़ाएं और नित्य रुद्राष्टक का पाठ करें। साथ ही शिवलिंग पर गंगाजल और दूध में शक्कर मिलाकर अभिषेक करें। पंचामृत अथवा शहद युक्त जल से भी भगवान शिव जी का अभिषेक करना चाहिए। तत्पश्चात लाल चंदन से तिलक करें।

धनु राशि
धनु राशि के जातकों को चाहिए कि वे प्रात: शिवजी के चरणों में पीले फूल अर्पित करें और शिवाष्टक का पाठ करें। कच्चा दूध, केसर, गुड़, हल्दी मिलाकर शिवलिंग का अभिषेक करना चाहिए। उसके बाद पीले फूल चढ़ाएं। भोलेनाथ का दूध में हल्दी अथवा पीला चंदन मिलाकर अभिषेक करना चाहिए।

मकर राशि
मकर राशि के जातक शिवजी को धतूरा, फूल, भांग एवं अष्टगंध चढ़ाकर पार्वती नाथाय नम:का जाप करें। इन्हें सावन के महीने में घी, शहद, दही और बादाम के तेल से शिवलिंग का अभिषेक करना चाहिए और नीले रंग के फूल अर्पित करें। उड़द से बनी मिठाई का भोग लगाना चाहएि।

कुंभ राशि
कुंभ राशि के जातक शिवलिंग का गन्ने के रस से अभिषेक करें एवं शिवाष्टक का पाठ करें। इस राशि के लोगों को सावन के महीने में घी, शहद, दही और से शिवलिंग का पूजन करें और सरसों के तेल और रोली से तिलक करें। शमी के फूल भी पूजा में जरूर अर्पित करें।

मीन राशि
मीन राशि के जातक शिवलिंग पर पंचामृत, दही, दूध व पीले फूल चढ़ाएं एवं चंदन की माला से 108 बार पंचाक्षरी मंत्र का जाप करें। साथ ही श्रावण मास में कच्चे दूध, केसर एवं गंगाजल से भगवान शिव का अभिषेक कर शिवलिंग का हल्दी एवं केसर से तिलक करें। पूजा में अपराजतिा के पुष्पों का प्रयोग करना चाहिए।

Home I About Us I Contact I Privacy Policy I Terms & Condition I Disclaimer I Site Map
Copyright © 2022 I Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved I Our Team