जानें होलिका दहन का शुभ मुहूर्त

टोंक। होलिका दहन फाल्गुन शुक्ल की प्रदोष व्यापिनी पूर्णिमा को भद्रा रहित प्रदोष काल में किया जाना शास्त्र सम्मत है, इस वर्ष फाल्गुन शुक्ल पूर्णिमा प्रदोष व्यापिनी 9 मार्च सोमवार को सूर्योदय से पूर्व 3.4 बजे से शुरू हो कर रात्रि 11.18 बजे तक है, इस दिन भदरा दोपहर बाद 1.11 बजे तक है जो पृथ्वी लोक की अशुभ है सायंकाल पूर्णिमा भदरा से मुक्त है। अत: होलिका दहन 9 मार्च सोमवार को गोधुलि बेला में सूर्यास्त बाद 6.28 बजे से 6.40 बजे तक किया जाना शुभ है।

मनु ज्योतिष एवं वास्तु शोध संस्थान टोक के निदेशक बाबूलाल शास्त्री ने बताया किए होलिका दहन 9 मार्च सोमवार को सांयकाल गोधुलि बेला में 6.28 से 6.40 तक शुभ है। चंद्रमा इस अवधि में पुरवा फाल्गुनी नक्षत्र स्वामी शुक्र राशि सिंह सवामी सूर्य में विचरण करेंगे जो ध्वज योग बना रहे हैं जो यश कीर्ति मान सम्मान देने वाला एवं विजय प्राप्त कराने वाला है, चंद्रमा पर देव गुरु बृहस्पति की नवम दृष्टि होने से गज केसरी योग सूर्य के साथ बुध होने से बुध आदित्य योग बन रहा है, जिनके प्रभाव से सभी शुभ कार्य कष्टों का निवारण होगा तथा दुश्मन पराजित होगें।
 2017 और आपका भविष्य  
3 दिन में बदल जाएगी किस्मत, आजमाएं ये वास्तु टिप्स
बुरे दिनों को अच्छे दिनों में बदलने के लिए करें केवल ये 4 उपाय

Home I About Us I Contact I Privacy Policy I Terms & Condition I Disclaimer I Site Map
Copyright © 2020 I Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved I Our Team